पथरी एक गंभीर समस्या है, जिसमें असहनीय दर्द होता है. पथरी की परेशानी सबसे अधिक किडनी में होती है. ऐसे में स्टोन की समस्याओं का इलाज दवाओं और घरेलू उपचार के माध्यम किया जा सकता है. इससे स्टोन यूरिन के जरिए शरीर से बाहर निकला जाता है. आयुर्वेद में कई ऐसी दवाइयां हैं, जिसके माध्यम से पथरी को ठीक किया जा सकता है. पतंजलि आयुर्वेद की दवाओं का प्रसिद्ध ब्रांड है, जिसकी पथरी के इलाज के लिए कई दवाइयां उपलब्ध हैं. इन दवाओं के सेवन से किडनी की पथरी का इलाज किया जा सकता है.

आज हम इस लेख में पतंजलि की पथरी की दवाओं के बारे में विस्तार से जानेंगे -

(और पढ़ें - किडनी स्टोन का आयुर्वेदिक इलाज)

  1. पतंजलि की पथरी की दवा
  2. सारांश
पतंजलि की पथरी की दवा के डॉक्टर

पथरी की परेशानी को दूर करने के लिए पतंजलि ने कई दवाओं का निर्माण किया है. इससे पथरी को यूरिन के माध्यम से बाहर निकाला जा सकता है. साथ ही कंपनी का दावा है कि इससे कई अन्य परेशानियों से भी छुटकारा मिल सकता है. आइए, विस्तार से जानते हैं पतंजलि की इन दवाओं के बारे में -

दिव्य अश्मरीहर रस

पथरी को बाहर निकालने के लिए पतंजलि की दिव्य अश्मरीहर रस लाभकारी हो सकती है. यह मूत्र संबंधी समस्याओं में राहत दिलाने में असरदार होती है. साथ ही पेट दर्द, जलन, मूत्र संबंधी समस्याओं और मूत्राशय में बनी पथरी को बाहर निकालने में असरदार होती है. दिव्य अश्मरीहर रस को जड़ी-बूटियों और प्राकृतिक अर्क द्वारा बनाया जाता है. इसमें मूत्रवर्धक गुण पाया जाता है.

यह शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में असरदार है. साथ ही शरीर में जमा तरल पदार्थ को खत्म करती है और गुर्दे की पथरी को बाहर निकालने में मददगार होती है. इतना ही नहीं, यह दवा संक्रमण पैदा करने वाले बैक्टीरिया को भी खत्म करने में असरदार है. दिव्य अश्मरीहर रस में मौजूद जड़ी-बूटियों में आरामदायक प्रभाव होता है, जो पथरी की परेशानी में होने वाले दर्द और परेशानी को कम करती हैं.

पथरी की समस्या से तत्काल और स्थायी राहत पाने के लिए दिव्य अश्मरीहर रस का सेवन करें. पतंजलि की इस दवा में यवक्षर, हजरुल यहूद भस्म, मुलिकशर व कलमी शोरा जैसी जड़ी-बूटियों का मिश्रण होता है, जो किडनी की पथरी का इलाज करने में प्रभावी है. आयुर्वेदाचार्य या डॉक्टर के निर्देशानुसार इसका सेवन करें.

(यहां से खरीदें - दिव्य अश्मरीहर रस)

UTI Capsules
₹719  ₹799  10% छूट
खरीदें

दिव्य वृक्कदोषहर क्वाथ

किडनी में जमा स्टोन को बाहर निकालने के लिए पतंजलि की दिव्य वृक्कदोषहर क्वाथ दवा प्रभावी हो सकती है. यह 'पाषाणभेद', 'गोखरू', 'पुनर्नवा मूल', 'कुलथी', 'वरुणाचल' और अन्य जड़ी-बूटियों से तैयार किया जाता है. इसके सेवन से उत्सर्जन प्रणाली मजबूत होती है. इसके सेवन से बार-बार पथरी बनने की शिकायत का भी इलाज किया जा सकता है.

इतना ही नहीं, यह किडनी के अंदर के इन्फेक्शन और किडनी से संबंधित अन्य बीमारियों के इलाज में भी मददगार है. पित्ताशय की पथरी की समस्या में भी यह उपयोगी है. वृक्कदोषहर क्वाथ के साथ 1-1 ग्राम अश्मरीहर का रस पीने से अत्यधिक लाभ होता है. इसके तीखे स्वाद को कम करने के लिए शहद या कोई अन्य मीठी चीज मिलाकर सेवन कर सकते हैं. डायबिटीज से ग्रस्त मरीज को इसे बिना मीठे के लेना चाहिए.

इसका सेवन करने के लिए 5-10 ग्राम क्वाथ को लगभग 400 मिलीलीटर पानी में तब तक उबालें, जब तक यह 100 मिलीलीटर न रह जाए. इसके पास इसे छान लें. इसका सेवन सुबह खाली पेट, रात के खाने से एक घंटा पहले या सोने से पहले करें. यदि आप इस काढ़े को अधिक मात्रा में नहीं ले पा रहे हैं, तो अधिक समय तक उबालें और पानी की मात्रा कम होने पर इसे छान लें. इसके अलावा चिकित्सक के निर्देशानुसार इसका सेवन करें.

(यहां से खरीदें - दिव्य वृक्कदोषहर क्वाथ)

दिव्य लिथोम

किडनी स्टोन की परेशानियों को कम करने के लिए पतंजलि की दिव्य लिथोम लाभकारी हो सकती है. इसमें गोखरू, पाषाणभेद, पुनर्नवा इत्यादि का मिश्रण होता है. पतंजलि की यह दवा न सिर्फ गुर्दे की पथरी, बल्कि पेट में जलन और गुर्दे से संबंधित सभी विकारों को दूर करने में भी उपयोगी है. आयुर्वेदाचार्य और डॉक्टर की सलाह पर इसका सेवन करें. इससे काफी लाभ मिल सकता है.

(और पढ़ें - पथरी में परहेज)

पतंजलि दिव्य हजरुल यहूद भस्म

पतंजलि हजरुल यहूद भस्म गुर्दे या मूत्रमार्ग की पथरी को दूर करने में प्रभावी हो सकती है. इसके अलावा, यह मूत्र संबंधी जलन को ठीक कर सकती है. गुर्दे की पथरी गलत खानपान, गतिहीन जीवनशैली और शरीर की सही तरीके से सफाई न करने की वजह से होती है. 

हजरुल यहूद भस्म ऐसे हर्बल के संयोजन से बनी है, जो पथरी को धीरे-धीरे तोड़ती है. यह पेशाब की परेशानी से तुरंत राहत दिलाती है. यह काफी गुणकारी औषधि है, जिसका कोई साइड इफेक्ट नहीं है.

हजरुल यहूद भस्म शरीर को डिटॉक्सीफाई करने में मदद करती है. साथ ही यह पेट में होने वाले दर्द और जलन को कम करती है और बिना सर्जरी के किडनी स्टोन को शरीर से बाहर निकालती है. डॉक्टर की सलाह पर इसका सेवन करने से पथरी के मरीजों को काफी लाभ होगा.

(यहां से खरीदें - पतंजलि दिव्य हजरुल यहूद भस्म)

दिव्य अश्मरीहर क्वाथ

किडनी में पथरी की परेशानी को दूर करने में पतंजलि की दिव्य अश्मरीहर क्वाथ लाभकारी दवा हो सकती है. अश्मरीहर क्वाथ को 'पाषाणभेद', 'वरुण', 'पुनर्नवा' व 'गोक्षुर' जैसी जड़ी-बूटियों से तैयार किया जाता है, जिसके इस्तेमाल से गुर्दे की पथरी की परेशानियों से काफी लाभ मिल सकता है. पतंजलि की इस दवा का प्रयोग पित्ताशय की पथरी की समस्याओं को दूर करने के लिए भी किया जा सकता है. इसका उपयोग मूत्र संबंधी सभी समस्याओं को दूर करने के लिए किया जाता है. डॉक्टर या फिर आयुर्वेदाचार्य की सलाह के अनुसार इसका सेवन करने से पथरी की समस्याओं से जल्द से जल्द राहत मिल सकती है.

(और पढ़ें - पथरी के घरेलू उपाय)

पतंजलि दिव्य श्वेत पर्पटी

मूत्राशय में पथरी की समस्या और पेशाब में जलन जैसी परेशानियों को दूर करने के लिए पतंजलि की श्वेत पर्पटी लाभकारी हो सकती है. इसमें कई ऐसी जड़ी-बूटियों का समावेश है, जो पथरी को तोड़कर मूत्र के जरिए शरीर से बाहर निकालने में प्रभावी हो सकती है. 

इसे पतंजलि आयुर्वेद और दिव्या फार्मेसी में पुरानी रिफाइनरी प्रक्रियाओं के आधार पर तैयार किया जाता है. इस दवा के प्रयोग से साइड-इफेक्ट होने का खतरा काफी कम होता है. पथरी की परेशानियों से राहत पाने के लिए डॉक्टर की सलाह के अनुसार इसका सेवन करें.

(यहां से खरीदें - पतंजलि दिव्य श्वेत पर्पटी)

दिव्य गोखरू क्वाथ

किडनी स्टोन की परेशानियों से राहत पाने के लिए पतंजलि की दिव्य गोखरू क्वाथ का सेवन करना लाभकारी हो सकता है. यह पथरी की परेशानियों के साथ-साथ यूरिनरी डिजीज व किडनी डिसऑर्डर को दूर करने में प्रभावी हो सकती है.

(और पढ़ें - किडनी स्टोन में कौन से फल खाएं)

पथरी की परेशानियों को दूर करने के लिए पतंजलि की कई दवाएं हैं, जिनके बारे में इस लेख में बताया गया है. कंपनी का दावा है कि इससे मरीजों को काफी लाभ होगा. साथ ही अन्य परेशानियों से भी छुटकारा मिल सकता है. बस ध्यान रखें कि इन दवाओं का सेवन करने से पहले एक बार डॉक्टर या फिर आयुर्वेद एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें, ताकि किसी भी तरह के दुष्प्रभाव से बचा जा सके.

 

अस्वीकरण: ये लेख केवल जानकारी के लिए है. myUpchar किसी भी विशिष्ट दवा या इलाज की सलाह नहीं देता है. उचित इलाज के लिए डॉक्टर से सलाह लें.

Dr Prashant Kumar

Dr Prashant Kumar

आयुर्वेद
2 वर्षों का अनुभव

Dr Rudra Gosai

Dr Rudra Gosai

आयुर्वेद
1 वर्षों का अनुभव

Dr Bhawna

Dr Bhawna

आयुर्वेद
5 वर्षों का अनुभव

Dr. Padam Dixit

Dr. Padam Dixit

आयुर्वेद
10 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें